in

एक स्टार्टअप ने इन भाइयों को बनाया अरबपति, 60 अरब रुपए में बिकी कंपनी

4_start-up_147197252

मुंबई. मुंबई के दो भाइयों की सक्सेस की कहानी आजकल खूब चर्चा में हैं। दरअसल, इन दोनों भाइयों ने अपने 900 मिलियन डॉलर (60 अरब 34 करोड़ 26 लाख रु.) के स्टार्टअप को बेचकर अरबपतियों की सूची में जगह बनाई है। कौन हैं ये दोनों भाई, कब शुरू किया था स्टार्टअप

– इन दोनों भाइयों का जन्म मुंबई में हुआ है। इनका नाम दिव्यांक (34) और भाविन ठरकिया (36) है।

– टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ दोनों भाइयों ने मीडिया डॉट नेट नाम के अपने स्टार्टअप को एक चीनी इन्वेस्टर को 900 मिलियन डॉलर में बेचा है।
– एडवरटीजमेंट इंडस्ट्री में इस डील को इतिहास की सबसे बड़ी डील में से एक माना जा रहा है।

– इससे पहले गूगल ने 750 मिलियन डॉलर एडमोब और ट्विटर के मोपब का 350 मिलियन डॉलर में अधिग्रहण किया था।

– बता दें कि उनके पिता पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं और मां सोशल वर्कर हैं। दिव्यांक सिर्फ आठ साल की उम्र से ही टेक्नोलॉजी और कम्प्यूटर्स में काफी दिलचस्पी लेने लगे थे।

– नौ साल पूरे करते-करते दिव्यांक ने बेसिक्स में प्रोग्रामिंग शुरू कर दी और कम्प्यूटर गेम प्रोग्रामिंग में खासी इंट्रस्ट लेने लगे।

13 साल की उम्र में बनाया पहला गेम

– किताबों से सीखते हुए उन्होंने महज 13 साल की उम्र में अपने भाई भाविन के साथ मिलकर स्टॉक मार्केट की कीमतों पर नजर रखने के लिए एक स्टॉक मार्केट सिमुलेशन गेम तैयार किया।
– इसी बीच भारत में इंटरनेट की शुरुआत हुई। इंटरनेट सीखकर 14 साल के दिव्यांक ने बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियों को फ्रीलांस इंटरनेट कंसल्टेशन देना शुरू किया।
– यहां उन्होंने कंपनियों के लिए वेबसाइट बनाने, इंटरनेट गेटवेज तैयार करने, इंट्रानेट स्थापित करने, कॉर्पोरेट ईमेल अकाउंट बनाने, नेटवर्क सिक्युरिटी पॉलिसी तैयार करने जैसे काम किए।
– इस दौरान उन्होंने महसूस किया कि तकनीकी सहायता की मांग करने वाली कंपनियों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

– इसी जरूरत को देखते हुए 16 साल के दिव्यांक ने अपने भाई भाविन के साथ मिलकर कंपनी शुरू करने का मन बनाया। 1998 में अपने पेरेंट्स से 50,000 रुपए का कर्ज लेकर कंपनी की स्थापना की।

क्या है मीडिया डॉट नेट ?

– भाविन और दिव्यांक ने मीडिया डॉट नेट को करीब छः साल पहले शुरू किया था। इसके दुबई और न्यूयॉर्क में ऑफिसेस हैं।
– ये एक ग्लोबल एडवरटाइजिंग कंपनी है जो एडवरटाइजर्स और पब्लिशर्स दोनों के लिए प्रोडक्ट डेवलप करती है।
– 2015 में इसके 650 कर्मचारी थे, जो बढ़कर फिलहाल 800 हो गए हैं।

Articles Source

Next post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

डायनासोर के बारे में तथ्य – Facts about Dynasore in Hindi

सेक्स के बारे में रोचक तथ्य – Facts about Sex in Hindi