in

कुछ ऐसे रहस्या जिनके सामने आज का इतना तरक्की कर चुका विज्ञान भी हैरान है

आज हर बीमारी का इलाज है . हर एक जगह से दुसरे जगह तक पल में पहुंचने का साधन है .यहाँ तक की चन्द्रमा में भी आज के वैज्ञानिक पहुंच गए है मेडिकल जगत की इन साड़ी खोजो ने आज हम सबको हैरान कर दिया है| लेकिन अभी भी कुछ ऐसी चीजे है जो अनसुलझी हुई पहलिओ के रूप में हम सबके सामने है.  कुछ ऐसी बाते है जिनका जवाब आज के महानतम वैज्ञानिकों के पास नहीं है जो आज भी एक गुथे के रूप में सबके सामने है. आइये हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताते है जिनके बारे में वैज्ञानिक ये पता नहीं लगा पाए है की आखिर ये क्यों हो रही है

1. लोहे का करोड़ों साल पुराना हथौड़ा:

इतिहास को खंगालने का काम पुरातत्व  विभाग का है. ये हथौड़ा पुरातत्व  विभाग को सन् 1934 में मिला  है इस हथौड़े के लोहे की शुद्धता ने सबको हैरानी में डाल दिया इसके साथ में उसमे जो लकड़ी के प्रयोग हुआ था वो लगी हुई लकड़ी अब कोयले का रूप ले चुकी है और आमतौर में कहा जाता है की ऐसे हथौड़ों का प्रयोग लगभग 10000 साल पहले होता था लेकिन ये करोडो साल पहले का लगता है

Source

2. सहारा रेगिस्तान में बना पत्थरों का ढांचा:

पत्थरों का कुछ ऐसा समूह जिसे देखने में अजीब लगता है  सन् 1973 में पुरातत्व विभाग ने इसे खोज निकाल और अपना ये तर्क दिया की आज से लगभग 6000 साल पहले इनका उपयोग खगोलीय शास्त्रों के लिए किया जाता था लेकिन ये किस तरीके से  किया जाता था  ये आज भी वैज्ञानिकों  के लिए एक प्रश्न बना हुआ है

Source

3. चीनी मोज़ेक लाईन:

किसी टेढ़े मेढे जगह में सीधी लकीरे देखने को मिले तो ये भी हैरानी वाली बात है. चीन के गानसू शेंग रेगिस्तान में कुछ ऐसी लकीरे मिली है जो गुफाओं के आसपास है और इनकी ख़ास बात ये है की ऊबड़ खाबड़ में बनी होने के वाबजूद ये बिलकुल सीधी है

Source

4. पत्थर की गुड़िया:

1889 में पुरातत्व विभाग को एक गुड़िया मिली और उन्होंने जब इसे वैज्ञानिकों को सौंपा तो वैज्ञानिकों ने अध्य्यन के बाद बताया की ये गुड़िया तब की है  की है जब हम इंसान सभ्यता के लोग आस्तित्व में आये थे लेकिन ये बात भी कुछ जमी नहीं इसीलिए आज भी ये गुड़िया रहस्य ही बनी हुई है

Source

5. करोड़ों साल पुराना लोहे का पेंच:

1998 में उल्का के अवशेषों के जाँच करते समय वैज्ञानिकों को एक पत्थर का टुकड़ा मिला था उस पत्थर के टुकड़े में लोहे का पेंच था. जब  वैज्ञानिकों ने उस पत्थर के टुकड़े पर अध्ययन किया तो जो नतीजा आया उसे देखकर वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया की वो पत्थर लगभग 30 करोड़ साल पुराना है. हैरानी वाली बात ये है की उस समय कोई भी प्रजाती इस धरती पर नहीं हुआ करती थी.

Source:

6. प्राचीन रॉकेट:

आप दिए हुए पेंटिंग में  रॉकेट साफ-साफ देख सकते हैं ये पेंटिंग 5000 ईसा पूर्व की  इस पेंटिंग में जो रॉकेट है वो वैज्ञानिकों के लिए ये हैरान करने वाली बात है की क्या उस वक़्त ऐसा कोई रॉकेट था और अगर नहीं था तो उस वक़्त के लोगो ने क्या सोच कर ये पेंटिंग बनाई होगी.

Source

7. खिसकते पत्थर:

इस धरती में एक जगह से दुसरे जगह चले जाने की क्षमता भगवान् ने सिर्फ सजीवों को ही दी है लेकिन सोचिये अगर निर्जीव पत्थर  अपने आप एक जगह से खिसक के दुसरे जगह चला जाए, कैलिफोर्निया के डेथ वाली में खिसकने वाले पत्थरो के रहस्य को सुलझाने के लिए 1972 में वैज्ञानिकों की एक टीम बनाई गई जो की इस रहस्य को सुलझाने में असफल रही  की पत्थर क्यों खिसक रहे है

Source

8. पिरामिड की ताकत:

पुराने मैक्सिकन सहर में बनी हुई दीवारे अभ्रक नमक एक धातु से बन हुआ है जो की ब्राजील में मिलता है और ब्राजील यहाँ से हजारो मील दूर है और इससे ऊर्जा का संचार किया जाता है तो सवाल ये है की क्या उस समय के कारीगर भी ऊर्जा का संचार करते थे तो आखिर क्यों ये भी एक रहस्या है

Source

9. विशाल जिवाश्म:

1895 में वैज्ञानिकों को खुदाई के के दौरान आयरलैंड में एक ऐसा अजीबो गरीब जीवाश्म मिला जिसकी 6 उंगलिया थी और उसके हाथ की लम्बाई 6 फिट थी अभी भी इसकी खोज जारी है.

Source

10. अटलांटिस के पिरामिड:

Source

11. भीमकाय इंसानी जबड़ा:

लाल बाल और 12 फिर की लम्बाई और बड़ा सा जबड़ा इसे तो हम भूतो की श्रेणी में रखते है लेकिन ऐसा नहीं है वैज्ञानिकों को 1911 में अमेरिका के नवादा में एक जबड़ा मिला था जो आम इंसान से काफी बड़ा था कहा जाता है नेवडा में ऐसे इंसान रहते थे जिनके बाल लाल और लम्बाई 12 फिट थे ये उन्ही के हो सकते है लेकिन फिर भी शंका बनी हुई है

Source

12. एल्युमीनियम की कील:

1974 में त्रानसिलवेनिया की मुर्से नदी में मैसतदन की हड्डीओं में से एक अलुमिनियम की कील मिली थे जो विशुद्ध थी अलुमिनियम एक ऐसी धातु है जो हमेशा मिश्रित अवस्था में होती है इसे 300 से  400 साल पहले का बताया गया है लेकिन उस समय ऐसा अलुमिनियम कहा से आया इसकी शंका बनी हुई है

Source

13. लोलाडॉफ़ प्लेट:

नेपाल में खुदाई के दौरान के पत्थर से बनी थाली मिली जो की 12, 000 साल पहले की थी। इस ताली में में आप यूएफओ और एलियन नुमा आकृति बनी देख सकते हैं।

Source

One Comment

Leave a Reply
  1. Its message for god …always we are curious to know what is this but we can’t find out its …………..mysterious

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

दुनिया के 10 ऐसे रहस्य जिन्हें आज तक कोई नहीं सुलझा सका है

एक ऐसा भी मंदिर है जहां अगर बारिश होने वाली हो तो पहले संकेत मिलते है